मुर्गे ने धारदार हथियार से किया मालिक का कत्ल! पुलिस ने हिरासत में लिया

सब-इंस्पेक्टर जीवन ने बताया कि चाकू लगने की वजह से सतैया का काफी खून बह गया था, जिसकी वजह से उनकी मौत हो गई.

नई दिल्ली:

तेलंगाना के जगतियाल जिले से एक शख्स की मौत का हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. पुलिस ने इस मामले में आरोपी मुर्गे को हिरासत में ले लिया है. जी हां, हिरासत में लिए गए मुर्गे पर अपने मालिक की हत्या का आरोप है और इस मामले में उसे सजा भी मिल सकती है. पूरा मामला जगतियाल जिले के गोलापल्ली का है. दरअसल, गोलापल्ली में मुर्गों की फाइट आयोजित होनी थी. इस सिलसिले में कई लोग अपने-अपने मुर्गों को फाइट के लिए तैयार कर रहे थे. फाइट में हिस्सा लेने के लिए टी. सतैया नाम का पोल्ट्री मालिक भी अपने मुर्गे को तैयार कर रहा था.

22 फरवरी की सुबह सतैया अपने काम के लिए पोल्ट्री फार्म आए हुए थे. उन्होंने मुर्गे के पैर में एक 3 इंच का चाकू बांध दिया था. मुर्गे के पैर में चाकू बांधने के बाद उन्होंने उसे नीचे रख दिया और दूसरे मुर्गे को उठाने लगे. इसी दौरान वह मुर्गा चाकू खोलने की कोशिश करने लगा. मुर्गे की इसी कोशिश में सतैया की कमर पर चाकू लग गया और वह बुरी तरह से घायल हो गए. 45 वर्षीय सतैया को फाइट के लिए मुर्गों को तैयार करने में मास्टर माना जाता है.

मामले की छानबीन कर रहे गोलापल्ली पुलिस स्टेशन के सब-इंस्पेक्टर जीवन ने बताया कि चाकू लगने की वजह से सतैया का काफी खून बह गया था, जिसकी वजह से उनकी मौत हो गई. जीवन ने बताया कि यह एक ओपन एंड शट केस है. मामले की जांच के लिए पुलिस ने चाकू जब्त कर लिया है और मुर्गे की कई तस्वीरें भी ले ली हैं. फिलहाल, मुर्गा पुलिस हिरासत में है. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो मुर्गे को कोर्ट में पेश भी किया जा सकता है. बताते चलें कि एक अन्य मामले में इसी साल जनवरी में दो मुर्गों को सजा के तौर पर 3 दिन तक जेल में रहना पड़ा था.

Leave a Comment